इस दिन से खोले जायेंगे लाडली बहन योजना के आवेदन पोर्टल इन सभी महिलाओं को मिलेगा लाभ

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लाडली बहन योजना की शुरुआत 15 मार्च 2023 से की थी. जिसमे केवल 23 वर्ष से लेकर 59 वर्ष की महिलाओं को सामिल किया गया था और इस योजना के तहत पहले चरण के आवेदन 25 मार्च तक लेने का काम किया गया था. और इसके दूसरे चरण के लिए आवेदन प्रक्रिया 25 जुलाई 2023 से शुरू की गई थी | जिसमे 21 वर्ष से 23 वर्ष की बहनों के साथ ट्रैक्टर परिवार वाले महिलाओं को सामिल किया गया था , लेकिन अब 23 वर्ष से 60 वर्ष वाली महिलाओं को अवसर मिलेगा जिनके पास ट्रैक्टर नही है , इसके लिए 17 सितंबर से 5 अक्टूबर तक राज्य की सभी महिलाओं के मौका है |क्यूंकि 17 सितंबर से 5 अक्टूबर तक लाडली बहन योजना के तीसरे चरण के आवेदन की प्रक्रिया चलेगी , जिसमे आप सभी महिलाएं लाडली बहन गैस सिलेंडर योजना और लाडली बहन आवास योजना के लिए आवेदन कर सकती है | 




पीएम मोदी के जन्मदिन के शुभ अवसर पर होगा लाडली बहन आवास योजना का शुभारंभ 

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा ’मुख्यमंत्री लाडली बहन आवास योजना ’और ’ गैस सिलेंडर योजना ’ का शुभारंभ 17 सितंबर को किया जा रहा है , इस योजना के अंतर्गत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट बैठक में सभी योजना को मंजूरी दे दी गई है | इसके साथ ही पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग ने इस योजना के पात्रता और मापदंडों को तय कर दिया है , और योजना के पूरी प्रक्रिया की जिम्मेदारी जनपद पंचायत को सौंपी है | 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट बैठक में यह  निर्णय लिया गया है की मुख्यमंत्री लाडली आवास योजना और गैस सिलेंडर योजना के आवेदन प्रक्रिया के लिए 17 सितंबर से लेकर 5 अक्टूबर तक पोर्टल को खोला जाएगा |

मध्य प्रदेश में रहने वाली सभी महिलाओं को गैस सिलेंडर सिर्फ और सिर्फ 450 रुपए में दिए जायेंगे | जिसमे प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत गैस कनेक्शन धारी उपभोक्ता और प्रधानमंत्री उज्ज्वला श्रेणी में मुख्यमंत्री लाडली बहन योजना के अंतर्गत पंजीकृत महिलाओं को इस योजना के तहत सिर्फ 450 रुपए में सिलेंडर दिया जाएगा |


इन सभी परिवार के महिलाओं को मिलेगा आवास योजना का लाभ 

मुख्यमंत्री लाड़ली बहना आवास योजना के तहत कौन-कौन से परिवार इस योजना का लाभ पाने के लिए पत्र हैं, इसकी जानकारी देने के लिए विभाग ने यह निर्देश जारी किए हैं कि, एमआईएस पोर्टल पर रजिस्टर्ड 378662 परिवार जो भारत सरकार के एमआईएस पोर्टल पर आटोमेटिकली रिजेक्ट हो गए हैं, उन्हें इस योजना के लाभनभीत पात्रता में में शामिल किया जाएगा। साथ ही 97 हजार ऐसे परिवार जो भारत सरकार के एमआईएस पोर्टल पर दर्ज होने से छूट गए थे, उन्हें भी इसमें शामिल किया जाएगा। इसके अलावा, वर्ष 2011 की आर्थिक और जातिगत जनगणना में और आवास प्लस की सूची में शामिल नहीं रहे परिवारों को भी मुख्यमंत्री लाड़ली बहना आवास योजना का लाभ दिया जाएगा



मुख्यमंत्री लाड़ली बहना आवास योजना के लिए अपात्रता मापदंडों का भी ध्यान रखा जा रहा है। इसमें यह उल्लिखित है कि जिन परिवारों के पास पक्की छत वाला मकान है, या जिनके पास दो व अधिक कमरों वाला मकान है, वे सभी परिवार इस योजना के लिए पात्र नहीं माने जाएंगे। इसी तरह, चार पहिया वाहन वाले परिवार और , जिस परिवार का सदस्य शासकीय कर्मचारी होगा, उन्हें भी 'मुख्यमंत्री लाड़ली बहना आवास योजना' में शामिल नहीं किया जाएगा। साथ ही, आयकर दाता और ढाई एकड़ या अधिक की सिंचित भूमि रखने वाले अथवा 5 एकड़ से अधिक असंचित भूमि रखने वाले परिवार भी इस योजना में आवास के लिए पात्र नहीं होंगे।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.